Home Dadi Maa Ke Nuskhe कब्ज क्यों होता है इसके इलाज के 20 रामबाण नुस्खे

कब्ज क्यों होता है इसके इलाज के 20 रामबाण नुस्खे

160
0
कब्ज क्यों होता है इसके इलाज के 20 रामबाण नुस्खे

कब्ज क्यों होता है इसके इलाज के 20 रामबाण नुस्खे

चिकित्सा विशेषज्ञों के अनुसार जब भोजन में अधिक गरिष्ठ, शुष्क अधिक मिर्च-मसालों और अम्ल रसों से बने खाद्य-पदार्थों का सेवन करने से पाचन क्रिया समस्या होने से कब्ज की उत्पत्ति होती है। अधिक समय बिस्तर पर लेटकर आराम करने, शारीरिक श्रम न करने से भोजन पूरी तरह नहीं पचता और मल का अवरोध होने से कब्ज होने लगती है। अधिक चिंता, आलस्य के कारण भी कब्ज होती है। चाय, कॉफी का अधिक सेवन मल को शुष्क कर कब्ज का शिकार बनाता है। आगे पढ़िएकब्ज क्यों होता है इसके इलाज के 20 रामबाण नुस्खे।

कोष्ठबद्धता अथवा कब्ज क्यों होती है?

दादी मां कहती हैं—‘सुबह देर तक बिस्तर पर पड़े रहने और समय पर शौच के लिए नहीं जाने से मल (मल) आंत्रों में एकत्र होने लगता है। आंत्रों में एकत्र मल एक दिन में अधिक शुष्क और कठोर हो जाता है। कठोर मल नहीं निकल पाता। आंत्रों में मल का एकत्र होना ही कब्ज होती है।

कब्ज होने पर पेट में दर्द, गैस (वायु विकार), बदहज़मी/ आध्मान/ अफारा, जी मिचलाना, उल्टी , सिर दर्द, चक्कर आना, नेत्रों के सामने अंधेरा छाना, शरीर में आलस्य और पाचन क्रिया की समस्या होती है।

कब्ज के इलाज के 20 रामबाण नुस्खे

कब्ज के इलाज के 20 रामबाण नुस्खे

कब्ज़ का घरेलु उपचार

  • त्रिफला का चूर्ण 5 ग्राम मात्रा में हल्के गर्म पानी के साथ रात्रि को सोते समय सेवन करने से कब्ज नष्ट होती है।
  • प्रतिदिन सेब, अंगूर या पपीता खाने से कब्ज का निवारण होता है।
  • बड़ी हरड़ को कूट-पीसकर चूर्ण बनाकर रखें। 5 ग्राम चूर्ण हल्के गर्म पानी के साथ सेवन करने से कब्ज नष्ट होती है। अधिक कब्ज होने पर कई दिन तक चूर्ण का सेवन कर सकते हैं।
  • प्रतिदिन भोजन के साथ गाजर, मूली, प्याज, टमाटर, खीरा व चुकंदर का सलाद बनाकर, नीबू का रस और सेंधा नमक मिलाकर सेवन करने से कब्ज का निवारण होता है।
  •  कब्ज से पीड़ित रहने वाले स्त्री-पुरुषों को प्रतिदिन पालक, मेथी, बथुआ या चौलाई की सब्जी खाने से कब्ज से मुक्ति मिलती है।

कब्ज़ के उपचार के आयुर्वेदिक नुस्खे

  •  गाजर या संतरे का 200 ग्राम रस पीने से कब्ज नष्ट होती है। रसों का दो-तीन दिन तक अवश्य सेवन करना चाहिए।
  •  अजवायन 10 ग्राम, त्रिफला 10 ग्राम और सेंधा नमक 10 ग्राम लेकर किसी खरल में पीसकर चूर्ण बनाकर रखें। प्रतिदिन 3 से 5 ग्राम मात्रा में इस चूर्ण को हल्के गर्म पानी के साथ सेवन करने से कठोर कब्ज भी नष्ट हो जाती।
  •  प्रतिदिन रात को सोने से पहले 30 ग्राम गुलकंद खाकर दूध पीने से कब्ज नष्ट होती है।
  •  200 ग्राम हल्के गर्म पानी में 5 ग्राम नीबू का रस और 5 ग्राम अदरक का रस और 10 ग्राम मधु मिलाकर सेवन करने से कब्ज शीघ्र नष्ट होती है।
  •  रात्रि में सोने से 30-40 मिनट पहले गर्म पानी में 10 ग्राम मधु मिलाकर पीने से प्रातः खुलकर शौच आती है। कुछ दिनों तक सेवन करने से कब्ज पूरी तरह नष्ट हो जाती है।

कब्ज़ की बीमारी को कैसे करे जड़ से खत्म

  •  5 ग्राम छोटी हरड़ और 1 ग्राम दालचीनी लेकर कूट-पीसकर चूर्ण बनाकर रखें 3 ग्राम चूर्ण हल्के गर्म पानी के साथ रात्रि में सोने से पहले सेवन करने से कब्ज नष्ट होती है।
  •  गुलाब के फूल 10 ग्राम, सनाय 10 ग्राम, सौंफ 10 ग्राम और मुनक्का 20 ग्राम, इन सबको रात को 250 ग्राम पानी में डालकर रखें। प्रातः उठकर सबको उसी पानी में उबालकर काढ़ा बनाएं। 50 ग्राम शेष रह जाने पर क्वाथ को छानकर पीने से कब्ज का पूरी तरह निवारण होता है।
  •  10 बूंद एरंड का तेल रात को सोते समय पानी में मिलाकर पीने से कब्ज नष्ट हो जाती है। कब्ज से अधिक पीड़ित रहने वाले सप्ताह में दो बार इसका सेवन कर सकते हैं।
  •  5 ग्राम नीबू के रस को 200 ग्राम पानी में मिलाकर उसमें 10 ग्राम मिश्री घोलकर पीने से कब्ज नष्ट होती है।
  •  5-6 अंजीर 250 ग्राम पानी में उबालकर, छानकर पानी पीने से कब्ज का शीघ्र निवारण होता है।

रात में सोने से पहले करे ये काम दूर हो जाएगी कब्ज़

  •  20 ग्राम ईसबगोल रात्रि को सोने से 30 मिनट पहले गर्म दूध के साथ सेवन करने से कब्ज शीघ्र नष्ट होती है।
  •  20 ग्राम मात्रा में ग्वारपाठा को पीसकर उसमें थोड़ा-सा काला नमक मिलाकर प्रातः और सायं खाने से कब्ज का निवारण होता है। रोगी को खाली पेट ही इसका सेवन करना चाहिए।
  •  कब्ज के रोगी को दिन में 25-30 गिलास पानी अवश्य पीना चाहिए।
  •  कब्ज से सुरक्षित रहने के लिए प्रतिदिन सूर्योदय से पहले बिस्तर से उठकर एक-दो गिलास पानी पीकर कुछ देर इधर-उधर अवश्य घूमना चाहिए। पार्क में भ्रमण के लिए जाने से कब्ज के रोगी को बहुत लाभ होता है। रात को देर तक फिल्म देखने और देर तक पार्टियों में जाने से सुबह देर से नींद खुलती है। सुबह देर तक बिस्तर पर पड़े रहने से समय पर शौच जाना संभव नहीं होता है। अनियमित रूप से शौच जाने पर कब्ज की समस्या होती है। चिकित्सा विशेषज्ञों के अनुसार कब्ज की समस्या के कारण पेट के अनेक रोग-विकार उत्पन्न होते हैं।

हमारे प्रिय पाठको हमें उम्मीद है की आपको कब्ज क्यों होता है इसके इलाज के 20 रामबाण नुस्खे लेख जरूर पसंद आया होगा और आप के काम का भी होगा। यदि आपको हमारा जानिए कब्ज क्यों होता है इसके इलाज के 20 रामबाण नुस्खे लेख अच्छा लगा हो तो अपने जरुरतमंद परिवार के सदस्यो तथा मित्रो के साथ शेयर करे। यदि आप हमसे  प्रश्न करना चाहते हैं या किसी भी प्रकार का घरेलु उपचार जानना चाहते हैं कृपया करके कमेंट करे। हमें आपकी मदद करके ख़ुशी होगी। धन्यवाद।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here